Breaking News
Home / top / 370 में बदलाव के बाद पहली बार कल महबूबा से मिलेंगे पीडीपी के नेता

370 में बदलाव के बाद पहली बार कल महबूबा से मिलेंगे पीडीपी के नेता

उमर अब्दुल्ला और फारूक़ अब्दुल्ला से नेशनल कॉन्फ़्रेंस के प्रतिनिधिमंडल के मिलने के बाद अब पीडीपी यानी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी का प्रतिनिधिमंडल भी अपनी पार्टी प्रमुख महबूबा मुफ़्ती से मिल पाएगा। महबूबा भी दो महीने से हिरासत में हैं। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार पीडीपी के दस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को महबूबा मुफ़्ती से मिलेगा। माना जा रहा है कि ब्लॉक डवलपमेंट काउंसिल यानी बीडीसी के चुनाव के मद्देनज़र इन मुलाक़ातों को मंज़ूरी दी गई है।

ये प्रक्रियाएँ ऐसे समय में चल रही हैं जब इन चुनावों के मद्देनज़र जम्मू और श्रीनगर के कई इलाक़ों में पाबंदी में ढील दी गई है। हाल ही में  राज्य के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी इस बात पर ज़ोर दिया है कि हिरासत में लिए गए राजनेताओं को एक-एक कर के रिहा किया जाएगा। इसे एक तरह से चुनाव के लिए माहौल को अनुकूल बनाने की तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है।

इसी प्रक्रिया के तहत रविवार को दो महीने बाद पहली बार उमर अब्दुल्ला और उनके पिता फारूक़ अब्दुल्ला को अपनी पार्टी नेशनल कॉन्फ़्रेंस यानी एनसी के नेताओं से मिलने दिया गया। दो महीने से दोनों नेताओं को अलग-अलग उनके अपने आवास पर हिरासत में रखा गया है। इनसे मिलने के लिए पार्टी के 15 नेताओं का प्रतिनिधिमंडल श्रीनगर गया था।

हालाँकि यह देखना दिलचस्प रहेगा कि पीडीपी बीडीसी चुनाव पर क्या फ़ैसला लेती है। नेशनल कॉन्फ़्रेंस के वरिष्ठ नेता अकबर लोन और हसनैन मसूदी ने तो यह साफ़ कर दिया है कि पार्टी राज्य में होने वाले बीडीपी के चुनाव में भाग नहीं लेगी क्योंकि पूरा नेतृत्व जेल में है। हालाँकि प्रतिनिधिमंडल में शामिल पार्टी के प्रांतीय अध्यक्ष देवेंद्र सिंह राणा ने कहा कि यदि राज्य में राजनीतिक प्रक्रिया शुरू करनी है तो मुख्य धारा के नेताओं को रिहा करना होगा।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *