Breaking News
Home / top / उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान- पिछले पांच साल में सरकार गिराने का षडयंत्र कभी नहीं रचा

उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान- पिछले पांच साल में सरकार गिराने का षडयंत्र कभी नहीं रचा

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी पिछले पांच साल से महाराष्ट्र में सरकार का हिस्सा है।

उसके पास कोई खास शक्तियां नहीं हैं लेकिन इसके बावजूद उसने कभी धोखा नहीं दिया और न ही सरकार गिराने के लिए कोई षडयंत्र रचा।

पार्टी प्रमुख ने कहा कि किसी गठबंधन में दोनों पार्टियों को सावधानी बरतने की जरूरत होती है अगर अकारण गति बढाई जाती है तो इससे दुर्घटना हो सकती है।

उद्धव ने पार्टी के मुखपत्र सामना में अपने साक्षात्कार के दूसरे भाग में आरे कॉलोनी में पेड़ों को काटे जाने के संबंध में अपनी पार्टी के विरोध पर भी चर्चा की। उद्धव ने कहा कि वे मेट्रो कार शेड के खिलाफ नहीं हैं बल्कि उस स्थान के खिलाफ हैं जहां इसकी इजाजत दी गई। उन्होंने कहा,‘‘लोगों की परेशानियों की कीमत पर विकास नहीं होना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि शिवसेना जनता से जुड़े मुद्दे उठाना जारी रखेगी।

शिवसेना प्रमुख ने कहा कि अगर आने वाले चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन जीत जाता है तो दोनों मिल कर बेहतर प्रशासन और सुशासन देंगे। फसल बीमा के मुद्दे पर पार्टी के विरोध प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह जनता से जुड़े मुद्दों को उठाते हैं।  उन्होंने कहा, ‘‘जब सरकार अपनी उपलब्धियों का प्रचार करती है, तो जमीन पर किए गए काम दिखते हैं। मैं सरकार के समक्ष जनता के मुद्दे उठाता रहूंगा।’’

उद्धव ने कहा, ‘‘क्या मैंने धोखा दिया या सरकार को गिराने के लिए षडयंत्र नहीं रचा। हम बिना किसी शक्ति के पिछले पांच साल से सरकार में हैं। हमारे बीच मतभेद थे और हमें जहां कहीं भी गलत लगा हमने अपनी आवाज उठाई।’’ उन्होंने कहा कि गठबंधन जारी रखने के लिए भाजपा और शिवसेना को सावधानी बरतने की जरूरत है। उनकी पार्टी ने महाराष्ट्र के हित में भाजपा के साथ गठबंधन किया है।

उद्धव ने अपना पक्ष रखते हुए कहा, ‘‘मैंने राज्य के हित के लिए समझौता किया। मुझे विास है कि पिछले पांच साल के अनुभव के आधार पर हम अच्छा प्रशासन और सुशासन दे सकेंगे।’’

उन्होंने टिप्पणी की,‘‘जब देवेन्द्र फड़णवीस पहली बार मुख्यमंत्री बने थे तो उनके पास क्या अनुभव था। शिवसेना के कुछ मंत्री पहले उस पद पर थे।’’  आरे कॉलोनी में बड़ी संख्या में पेड़ों को काटे जाने पर उन्होंने कहा कि लोगों की समस्याओं की कीमत पर विकास नहीं होना चाहिए। आरे में शेड का विरोध मुंबईवासी कर रहे हैं, शिवसेना नहीं।  उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरी पार्टी का व्यक्तिगत मुद्दा नहीं है। हम मेट्रो चाहते हैं और शहर का विकास चाहते हैं लेकिन ऐसा करते वक्त हमें कुछ ऐसा नहीं खोना चाहिए जो इससे अधिक मूल्यवान हो।’’  ननार तेलशोधन परियोजना के विरोध के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने स्थानीय लोगों का समर्थन किया।

उद्धव ने कहा कि शिवसेना ने कई बार विपक्ष की भूमिका निभाई है लेकिन ,‘‘वह सत्ता के दुरुपयोग और बदले की राजनीति के खिलाफ हैं। ईडी के दुरुपयोग के बारे में नहीं जानता लेकिन सीबीआई का दुरुपयोग कोई नयी बात नहीं है। आप जो बोएंगे वहीं आप काटेंगे।’’

राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का इस्तेमाल किए जाने के आरोपों पर ठाकरे ने कहा, ‘‘ये राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी हैं कौन? क्या ये पाक-साफ हैं?’’ उन्होंने कहा,‘‘ पाक-साफ नेताओं को कोई निशाना नहीं बना रहा। क्या आप इस बात से सहमत हैं कि ईडी के राडार पर जितने भी हैं वे दागी नहीं है?’’

आने वाले विधानसभा चुनाव पर उन्होंने कहा कि शिवसेना को महाराष्ट्र की सभी 288 सीटों के लिए तैयार रहना होगा।  उन्होंने कहा,‘‘तैयार रहने का मतलब चुनाव लड़ना, या जीतना अथवा हारना नहीं है। मैं चाहता हूं कि शिवसेना की विचारधारा प्रत्येक वार्ड में पहुंचे।’’

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *