Breaking News
Home / top / एयर इंडिया पर छाए संकट के बादल, दिवाली पर यात्रियों को हो सकती हैं मुश्किल! जानिए क्या है मामला

एयर इंडिया पर छाए संकट के बादल, दिवाली पर यात्रियों को हो सकती हैं मुश्किल! जानिए क्या है मामला

नई दिल्ली। वित्तीय संकट से जूझ रही एयर इंडिया के बुरे दिन खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। एयर इंडिया पर एक ओर संकट शुरू हो गया है। दिवाली से पहले एयर इंडिया के यात्रियों को अपने घर जाने में दिक्कत हो सकती है। दरअसल, एयर इंडिया द्वारा बकाया चुकाने के लिए सरकारी तेल कंपनियों 18 अक्टूबर से हवाई ईंधन (एटीएफ) की सप्लाई रोकने की धमकी दी है। हवाई ईंधन की सप्लाई का 5000 करोड़ रुपए बकाया हो गया है।

हर माह 100 करोड़ देने का वादा नहीं किया 
पूरा…
हर महीने 100 करोड़ रुपए का भुगतान न करने पर इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आइओसी) के डायरेक्टर (फाइनेंस) संदीप कुमार गुप्ता ने कहा कि एयर इंडिया ने पिछले जून में और सितंबर में वादा किया था कि हवाई ईंधन सप्लाई का बकाया भुगतान करने के लिए तीनों ऑयल मार्केटिंग कंपनियों को 100 करोड़ रुपये का भुगतान करेगी। लेकिन उसने अपना वादा पूरा नहीं किया है।

18 अक्टूबर से मुख्य हवाई अड्डों पर रुक सकती है सप्लाई…

आइओसी और दो अन्य तेल कंपनियों भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन ने एयर इंडिया को नोटिस दिया है कि अगर भुगतान नहीं किया गया तो वह हवाई ईंधन की सप्लाई रोकने को बाध्य होंगी। एयर इंडिया द्वारा यह मासिक भुगतान बकाए को चुकाने के लिए किया जाना है। तेल कंपनियां एयर इंडिया को हवाई ईंधन की सप्लाई नकद भुगतान पर ही कर रही हैं। गुप्ता ने कहा कि हमने उन्हें सूचना दे दी है कि प्रमुख हवाई अड्डों पर तेल की सप्लाई रोक देंगे। बकाए भुगतान के लिए एयर इंडिया से बात की जा रही है। इसके लिए हमने 18 अक्टूबर तक का वक्त दिया है।

परिचालन पर व्यापक असर होने की आशंका…

गुप्ता ने कहा कि तेल कंपनियों ने अभी यह स्पष्ट नहीं किया है कि किन हवाई अड्डों पर सप्लाई रोकी जाएगी। लेकिन प्रमुख हवाई अड्डों पर सप्लाई रोकी जा सकती है। अगर सप्लाई रोकी जाती है तो असर ज्यादा व्यापक होगा क्योंकि अगस्त में भुगतान के लिए कंपनियों ने सिर्फ छह छोटे हवाई अड्डों पर सप्लाई रोकी थी। उस समय बकाया चुकाने के लिए हर महीने 100 करोड़ रुपये के भुगतान एयर इंडिया के वादे पर सप्लाई शुरू हो हुई थी। एयर इंडिया आइओसी से रोजाना करीब 13-14 करोड़ रुपये का हवाई ईंधन खरीदती है।

अगस्त में 6 हवाई अड्डों पर रोकी थी सप्लाई…
तीनों सरकारी तेल कंपनियों ने 22 अगस्त को कोच्चि, मोहाली, पुणे, पटना, रांची और विजाग हवाई अड्डे पर सप्लाई रोकी थी। नागरिक विमानन मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद सप्लाई सात सितंबर को दोबारा चालू हुई थी। तेल कंपनियों ने पांच अक्टूबर को एयर इंडिया को बताया था कि अगर उसने मासिक एकमुश्त भुगतान नहीं किया तो 11 अक्टूबर से छह प्रमुख घरेलू हवाई अड्डों पर सप्लाई रोक दी जाएगी। इसके बाद एयर इंडिया ने सप्लाई न रोकने का अनुरोध किया। इस पर तेल कंपनियों ने लिखा कि उसने भुगतान के लिए कोई समय नहीं दिया है। फिर भी सप्लाई रोकने का फैसला एक सप्ताह यानी 18 अक्टूबर तक के लिए स्थगित किया जा रहा है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *