Breaking News
Home / top / कमलेश तिवारी मर्डर: यूपी एटीएस ने हिरासत में लिया बरेली का एक मौलाना

कमलेश तिवारी मर्डर: यूपी एटीएस ने हिरासत में लिया बरेली का एक मौलाना

हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष अघ्यक्ष कमलेश तिवारी की पिछले शुक्रवार 18 अक्तूबर को राजधानी लखनऊ में हुई हत्या के मामले में आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने बरेली से मंगलवार को एक मौलाना को हिरासत में लिया है।

मौलाना की संदिग्ध हरकतों पर एटीएस ने अपना शिंकजा कसा है। अब मौलाना से  लखनऊ में पूछताछ की जाएगी। पुलिस सूत्रों के अनुसार कमलेश तिवारी की हत्या के आरोपितों के मददगार प्रेमनगर निवासी  मौलाना  कैफ़ी अली रिावी को बीती रात एक बजे लखनऊ से गई एसटीएफ़ टीम ने हिरासत में लिया। टीम आज तड़के उसे लखनऊ ले गई। शुक्रवार रात को बरेली आए आरोपित मौलाना  के घर कुछ देर रुके थे।

लखनऊ में कमलेश तिवारी की हत्या के बाद आरोपितों की  लोकेशन लखनऊ के बाद शाहजहांपुर, बरेली व मुरादाबाद के बाद अम्बाला मिलने  की सूचना पर पुलिस की टीमें बेहद सक्रिय हैं।

सूत्रों के अनुसार कमलेश तिवारी की हत्या करने के बाद दोनों आरोपी मौलाना से  मिलने बरेली आए थे। मौलाना पर आरोपियों की मदद करने का आरोप है।

एसआईटी ने कातिलों द्वारा इस्तेमाल की गई कार जब्त की

उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी के कातिलों के और करीब पहुंच गई है। अन्य एजेंसियों के साथ काम कर रहे स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने एक इनोवा कार जब्त की है। कमलेश के कातिलों ने लखीमपुर में पलिया से शाहजहांपुर तक जाने के लिए इसे बुक किया था।

कार के ड्राइवर को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, ड्राइवर ने खुलासा किया है कि कार को उसके मालिक के एक रिश्तेदार ने गुजरात से 5,000 रुपये में बुक किया था।

माना गया है कि कातिल इसी कार से लखीमपुर से शाहजहांपुर गए, जहां सोमवार को एक सीसीटीवी कैमरे में उन्हें बस स्टेशन की तरफ पैदल जाते हुए देखा गया था।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *