Breaking News
Home / top / ARTICLE 370 : EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर कांग्रेस का हमला, कहा-कश्मीर हमारा आंतरिक मामला

ARTICLE 370 : EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर कांग्रेस का हमला, कहा-कश्मीर हमारा आंतरिक मामला

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में यूरोपीय सांसदों के दौरे को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला। कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि भारत के आंतरिक मामले का ‘अंतरराष्ट्रीयकरण करने’ और ‘संसद का अपमान करने’ को लेकर प्रधानमंत्री मोदी स्पष्टीकरण दें।

पार्टी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पिछले तीन दिनों में देश ने जो देखा है, वह बिल्कुल ठीक नहीं है। एक इंटरनेशनल बिजनेस ब्रोकर की मदद से EU सांसदों को भारत लाया गया, जो एक PR एक्सरसाइज थी। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले 72 साल में भारत की नीति रही है कि जम्मू-कश्मीर आंतरिक मामला है, ऐसे में किसी तीसरी पार्टी का दखल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस नीति को पलटकर मोदी सरकार ने सबसे बड़ा पाप किया है।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘पिछले तीन दिनों में देश ने एक ‘इंटरनेशनल बिज़नेस ब्रोकर’ द्वारा प्रायोजित मोदी सरकार का अपरिपक्व, विवेकहीन और मूर्खतापूर्ण ‘पीआर स्टंट’ (प्रचार का हथकंडा) देखा। एक पूर्णतया अनजान थिंकटैंक के द्वारा प्रायोजित यूरोपीय संसद के 27 सदस्यों को भारत लाया गया, उनकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करवाई गई, उन्हें कश्मीर के जमीनी हालात जानने के लिए सरकार द्वारा कश्मीर भेजा गया तथा उनकी पत्रकार वार्ता भी आयोजित की गई।’

उन्होंने कहा, ‘पिछले 72 साल से भारत की जाँची परखी नीति है कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है तथा हम इस बारे में किसी तीसरे पक्ष, समूह, संस्था या व्यक्ति की दखलंदाजी कदापि स्वीकार नहीं करेंगे। पिछले तीन दिनों में इस नीति को पलटकर मोदी सरकार ने एक अक्षम्य अपराध किया है।’

सुरजेवाला ने आरोप लगाया, ‘भाजपा सरकार ने देश की संसद और प्रजातंत्र का भी घोर अपमान किया है। जब हमारे अपने सांसद और विपक्षी दलों के नेता कश्मीर जाते हैं, तो भाजपा सरकार उन्हें हवाईअड्डे पर ही गिरफ्तार कर जबरन वापस भेज देती है। इसके विपरीत भाजपा सरकार यूरोपीय सांसदों का लाल कालीन बिछा कर कश्मीर में स्वागत कर रही है।’

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *