Breaking News
Home / top / पंचकूला हिंसा: हनीप्रीत पर लगी देशद्रोह की धारा हटाई गई, अन्य धाराओं में आरोप तय

पंचकूला हिंसा: हनीप्रीत पर लगी देशद्रोह की धारा हटाई गई, अन्य धाराओं में आरोप तय

नई दिल्ली : पंचकुला कोर्ट ने डेरा सच्चा सौदा की राजदार हनीप्रीत समेत 14 लोगों पर से देशद्रोह का आरोप हटा दिया है। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 121 और 121 ए के तहत देशद्रोह के आरोप लगाए गए थे। मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सभी 14 लोगों के खिलाफ देशद्रोह के आरोप को खारिज कर दिया। हनीप्रीत और 14 अन्य आरोपियों के खिलाफ यह एफआइआर 28 अगस्त 2017 को दर्ज की गई थी।

सुनवाई के दौरान अन्य आरोपी पंचकुला कोर्ट में मौजूद थे, जबकि हनीप्रीत को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया गया था। कोर्ट में पुलिस हनीप्रीत और अन्य आरोपियों के खिलाफ देशद्रोह की धारा साबित नहीं कर पाई। कोर्ट ने आरोपियों पर से देशद्रोह की धारा हटा दी। अब इस मामले को वापस सीजेएम कोर्ट भेज दिया गया है, जहां 6 नवंबर को सुनवाई होगी।

इन धाराओं के अनुसार तय हुए आरोप आरोप तय

हनीप्रीत के खिलाफ फाइल की गई चार्जशीट में कुल 67 गवाह बनाए गए हैं। हनीप्रीत और दूसरे आरोपियों के खिलाफ पंचकूला के सेक्टर-5 पुलिस थाने में 27 और 28 अगस्त को आइपीसी की धाराओं 121, 121ए, 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120बी के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी। इसमें कहा गया है कि पंचकूला में राम रहीम के समर्थकों ने गाड़ियां फूंकी, पेट्रोल पंप जलाया, सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों में आगजनी की। इसमें 36 लोगों ने जान गई थी। दंगा फैलाने के आरोप में राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को गिरफ्तार किया गया। 14 अन्य को भी आरोपी बनाया गया था।

कौन है हनीप्रीत इंसां व सुखदीप

हनीप्रीत के पिता रामानंद तनेजा और मां आशा तनेजा फतेहाबाद के रहने वाले हैं। हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। हनीप्रीत के पिता राम रहीम के अनुयायी थे। वे अपनी सारी प्रॉपर्टी बेचने के बाद डेरा सच्चा सौदा में अपनी दुकान चलाने लगे। 14 फरवरी 1999 को हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की सत्संग में शादी हुई। इसके बाद बाबा ने हनीप्रीत को अपनी तीसरी बेटी घोषित कर दिया। हनीप्रीत राम रहीम के प्रोडक्शन में बनी फिल्मों में एक्टिंग और डायरेक्शन भी कर चुकी है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *