Breaking News
Home / top / देश छोड़कर भागा स्वामी नित्यानंद, बच्चों के अपहरण का है आरोप

देश छोड़कर भागा स्वामी नित्यानंद, बच्चों के अपहरण का है आरोप

नई दिल्ली : कई गंभीर मामलों में आरोपी स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद देश छोड़कर विदेश भाग गया है। इस बात की पुष्टि खुद गुजरात पुलिस ने की है। नित्यानंद के ऊपर बच्चों के अपहरण और उन्हें अपने आश्रम में बंधक बनाकर उनसे चंदा इकट्ठा कराने का आरोप है। इस मामले में ही नित्यानंद की दो महिला अनुयायियों को मंगलवार को गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार किया था। नित्यानंद के खिलाफ ठोस सबूत जुटाने के लिए गुजरात पुलिस ने गुरुवार को उसकी दोनों महिला अनुयायियों को रिमांड पर लिया।

‘नित्यानंद को अब यहां खोजना समय की बर्बादी’ पुलिस ने बुधवार को नित्यानंद के खिलाफ बच्चों का अपहरण करने और अपने आश्रम योगिनी सर्वज्ञपीठम को चलाने के लिए अनुयायियों से चंदा इकट्ठा करने के लिए बच्चों को गलत तरीके से बंधक बनाने का मामला दर्ज किया था। अहमदाबाद के एसपी (ग्रामीण) आरवी असारी ने बताया कि नित्यानंद विदेश भाग चुका है और अगर जरूरत पड़ी तो गुजरात पुलिस उचित प्रक्रिया के तहत उसकी हिरासत की मांग करेगी। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में नित्यानंद के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद वो देश छोड़कर भाग गया है और उसे अब यहां खोजना समय की बर्बादी होगी। अगर वो भारत वापस आता है तो हम उसे जरूर गिरफ्तार करेंगे।

प्राणप्रिया और प्रियातत्व से पूछताछ जारी अहमदाबाद (ग्रामीण) के डिप्टी एसपी केटी कामरिया ने बताया कि नित्यानंद की दो अनुयायियों प्राणप्रिया और प्रियातत्व को मंगवार को किडनैपिंग, अवैध तरीके से बंधक बनाने और अन्य आरोपों में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद इन दोनों को बुधवार शाम को कोर्ट ने पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया। दोनों से पुलिस फिलहाल पूछताछ कर रही है। डिप्टी एसपी ने यह भी बताया कि पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई उस महिला के मामले की भी जांच कर रही है, जिसमें महिला के पिता जनार्दन शर्मा ने विवेकानंद पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

‘मामले में शामिल किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा’ डिप्टी एसपी केटी कामरिया ने बताया, ‘हमने नित्यानंद की दो अनुयायियों को रिमांड पर लिया है, अगर हमें मौजूदा जांच के दौरान नित्यानंद के खिलाफ ठोस सबूत मिलते हैं, तो हम उसके खिलाफ मामला आगे बढ़ाएंगे। एफआईआर में नित्यानंद को एक आरोपी के तौर पर रखा गया है, लेकिन हमें अभी भी उसके खिलाफ केस आगे बढ़ाने के लिए ठोस सबूत चाहिएं।’ वहीं गुजरात के गृह मंत्री प्रदीपसिंह जडेजा ने कहा कि मामले में शामिल किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि डीजीपी ने संबंधित एसपी को मामले की जांच के लिए एक टीम बनाने का निर्देश दे दिया है।

About admin