Breaking News
Home / top / नागरिकता संशोधन विधेयक पर असम में भड़के लोग ,डिब्रूगढ़ में सेना बुलाई

नागरिकता संशोधन विधेयक पर असम में भड़के लोग ,डिब्रूगढ़ में सेना बुलाई

गुवाहाटी। नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) राज्यसभा में पेश कर दिया गया है। इस बिल का असम के लोग शुरू से ही विरोध जता रहे हैं। वे लगातार उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी को देखते हुए कई ट्रेनों को या तो रद्द कर दिया गया है या उनके रास्ते बदल दिए हैं। कई ट्रेनों के टाइम-टेबल में भी बदलाव किया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार, डिब्रूगढ़ में स्थिति बिगड़ते देख सेना को बुलाया गया है।

विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने बुधवार को कई ट्रेनें रद्द कर दीं हैं। पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुभानन चंदा ने एक बयान में कहा कि कम से कम 14 ट्रेनों को या तो रद्द कर दिया गया है या गंतव्य स्थान से पहले ही रोक दिया गया है ।
मंगलवार को गुवाहाटी में 12 घंटे का बंद बुलाया गया। कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर टायर जलाए थे।

गुवाहाटी में ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन के नेतृत्व में मशाल जुलूस निकाला गया। तमाम छात्र संगठन इस बिल के विरोध में उतर आए हैं।

गुवाहाटी में हजारों की संख्या में प्रदर्शन करने उतरे छात्रों ने पारंपरिक ढोल बजाकर बिल का विरोध किया। आपको बताते जाए कि असम के 90 प्रतिशत से ज्यादा क्षेत्रों पर यह बिल लागू होगा। नॉर्थ ईस्ट स्टूडेंट्स ऑर्गनाइजेशन (एनईएसओ) के नेतृत्व में छात्र सड़कों पर उतरे और सड़कों पर टायर जलाकर रास्ते बंद कर दिए। इतना ही नहीं इन प्रदर्शनकारियों ने कई जगहों पर पेड़ काटकर रास्तों को भी रोक दिया गया।

असम के गुवाहाटी में प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के पुतले फूंके। स्थानीय लोग बिल को लेकर जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं और इसे वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

About admin