Breaking News
Home / top / अमेरिका के साथ तनाव के बीच आज तीन दिवसीय दौरे पर भारत आएंगे ईरान के विदेश मंत्री जरीफ

अमेरिका के साथ तनाव के बीच आज तीन दिवसीय दौरे पर भारत आएंगे ईरान के विदेश मंत्री जरीफ

अमेरिका के साथ चल रहे तनाव के बीच ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ तीन दिवसीय दौरे पर आज भारत आएंगे। ईरान के विदेश मंत्री मंगलवार से राजधानी दिल्ली में शुरू हो रहे रायसीना डायलॉग में शामिल होंगे। सम्मेलन में 100 से ज्यादा देशों के 700 नेता राजनीति, विज्ञान, जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद और अगले दशक के कई अन्य एजेंडों पर अपने विचार साझा करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रायसीना डायलॉग के उद्घाटन सत्र में शामिल होंगे।

उद्घाटन सत्र में शामिल होंगे पीएम मोदी

पीएम मोदी आज शाम 6 से 7 बजे के बीच होटल ताज पैलेस में आयोजित उद्घाटन सत्र में शामिल होंगे। ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन ने एक बयान में कहा कि उसके और विदेश मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में कई उपविदेश मंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री, पूर्व राष्ट्रपति, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, सेना प्रमुख और अन्य उच्चस्तरीय नीति निर्माता, विद्वान और अधिकारी हिस्सा लेंगे।

किन-किन देशों के विदेश मंत्री होंगे शामिल

बयान के मुताबिक, 105 देशों के 180 से अधिक प्रतिनिधि इस सम्मेलन में हिस्सा लेंगे, जिसका विषय ‘21 एट 20: अल्फा सदी के रास्ते’ है। सम्मेलन में 116 वक्ता होंगे। विदेश मंत्री एस जयशंकर के अलावा इस साल सम्मेलन में रूस, ईरान, ऑस्ट्रेलिया, मालदीव, दक्षिण अफ्रीका, लातविया, उज्बेकिस्तान, एस्टोनिया, डेनमार्क, हंगरी, रवांडा और तंजानिया के विदेश मंत्री भी शिरकत करेंगे।

शामिल होंगे रक्षा क्षेत्र से कई दिग्गज

विदेश सचिव विजय गोखले, रक्षा प्रमुख  जनरल बिपिन रावत, नौसेना प्रमुख एडमिरल करणबीर सिंह, अमेरिका के उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मैथ्यू पोटिंगर, अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हमदुल्ला मोहिब, अमेरिकी हिंद प्रशांत कमान के कमांडर एडमिरल फिल डेविडसन भी अपनी बात इस कार्यक्रम में रखेंगे।

ईरान के कमांडर सुलेमानी को अमेरिका ने मारा था

अमेरिका ने 3 जनवरी को इराक के बगदाद एयरपोर्ट पर ड्रोन से हमला कर ईरान के कुद्स फोर्स के कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराया था। तब से पश्चिम एशिया और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ गया है। इसके जवाब में ईरान ने भी बगदाद में अमेरिकी ठिकानों पर मिसाइल दागी थीं। दोनों देशों के विवाद पर सभी देशों का ध्यान है। भारत भी दोनों देशों के बीच तनाव खत्म करना चाहता है। इसके लिए विदेश मंत्री एस जयशंकर ईरान, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान और कतर समेत मध्य पूर्व के प्रमुख देशों के संपर्क में हैं।

विदेश मंत्री जयशंकर से भी मुलाकात करेंगे जरीफ

जरीफ 15 जनवरी को मोदी से मुलाकात करेंगे। गुरुवार को जयशंकर के साथ नाश्ते पर क्षेत्रीय मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे। इसके बाद वह मुंबई जाएंगे और वहां के उद्योगपतियों से बातचीत करेंगे। अपनी यात्रा के दौरान वे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी मुलाकात करेंगे।

अमेरिका-ईरान संकट से भारत पर असर

अमेरिका और ईरान के बीच बढ़े तनाव की वजह से तेल के दाम बढ़ गए हैं। हालांकि, अमेरिकी प्रतिबंधों की वजह से भारत ने ईरान से तेल खरीदना बिल्कुल बंद कर दिया है। लेकिन, खाड़ी देशों में लाखों भारतीय रहते हैं। दोनों देशों के बीच संकट से भारत पर इसका व्यापक प्रभाव हो सकता है।

About admin