Breaking News
Home / top / स्टाम्प ड्यूटी चोरी मामले में EC अशोक लवासा के परिवार को मिली क्लीन चिट

स्टाम्प ड्यूटी चोरी मामले में EC अशोक लवासा के परिवार को मिली क्लीन चिट

चंडीगढ़ : भाजपा शासित हरियाणा सरकार ने चुनाव आयुक्त (ईसी) अशोक लवासा के परिवार के सदस्यों को आयकर विभाग (आईटी) विभाग द्वारा कथित स्टांप ड्यूटी चोरी के एक मामले में क्लीन चिट दे दी है। 27 दिसंबर को इंडियन एक्सप्रेस ने पहली रिपोर्ट की थी कि गुरुग्राम में अशोक लवासा की पत्नी नोवेल लवासा और उनकी बहन शकुंतला लवासा के बीच एक अपार्टमेंट के हस्तांतरण के दौरान स्टांप ड्यूटी में कथित रूप से चोरी के आरोप की जांच आईटी विभाग ने की।

विभाग ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के दौरान नोवेल लवासा के आयकर रिटर्न और ट्रांसफर डीड के बीच विसंगतियां पायी। इसके बाद नवंबर 2019 में आईटी विभाग ने हरियाण के अतिरिक्त मुख्य सचिव और वित्त आयुक्त को इस मामले को लेकर लिखा था। आईटी विभाग के अनुसार, नोवेल लवासा के रिटर्न में यह दिखाया गया है कि उन्होंने गुरुग्राम स्थित चार मंजिले इमारत का पहला तल्ला 1.73 करोड़ रुपये में शकुंतला लवासा को बेचा। जबकि रजिस्टर्ड ट्रांसफर डीड में दिखाता है कि नोवेल ने 27 दिसंबर 2018 को वह संपत्ति अपने पति को उपहार में दी और इसी संपत्ति को अशोक लवासा ने अपनी बहन को जनवरी 2019 में उपहार में दे दी।

हरियाणा में यदि कोई व्यक्ति अपने खून के रिश्ते (भाई, बहन, बेटा, बेटी, पोता, पति) को देता है तो इसके ऊपर स्टाम्प ड्यूटी नहीं लगता है। आईटी विभाग ने हरियाणा सरकार को बताया कि संपत्ति हस्तांतरण के मामले में किसी तरह का स्टाम्प ड्यूटी नहीं दिया गया। साथ ही विभाग ने जांच की मांग की।

About admin