Breaking News
Home / top / टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज छात्र संघ का बयान- हमारी शिक्षा और करियर से खिलवाड़ कर रही BJP

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज छात्र संघ का बयान- हमारी शिक्षा और करियर से खिलवाड़ कर रही BJP

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (TISS) छात्र संघ ने अपने संस्थान की छात्रा क्रिस चूड़ावाला के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने और राजद्रोह का आरोप लगाए जाने की निंदा की है. TISS छात्र संघ ने अपने बयान में राजद्रोह को पुराना पड़ चुका औपनिवेशिक कानून बताया.

छात्र संघ के मुताबिक इस कानून को आ आज भी अल्पसंख्यकों, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं, नागरिक अधिकार कार्यकर्ताओं और असहमति के स्वर बोलने वाले लोगों के खिलाफ राजनीतिक औजार के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है. छात्र संघ ने साथ ही चूड़ावाला के खिलाफ एफआईआर तत्काल हटाने की मांग की.

बयान में कहा गया है, ‘मुंबई प्राइड 2020  के दौरान आजाद मैदान में नारे लगाने के लिए 2 फरवरी, 2000 को राजद्रोह के आरोप के साथ TISS छात्रा क्रिस चूडावाला के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. माननीय सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक फैसले में माना है कि सिर्फ नारे लगाने से राजद्रोह का मामला नहीं बनता जब तक कि हिंसा का खतरा नहीं हो. दबे हुए लोगों की असहमति की आवाजों को कुचलने के लिए इस तरह के आरोप लगाए जाना अति निंदनीय है.’

About admin