Breaking News
Home / top / टाटा ओपन महाराष्ट्र में भारत को नहीं मिला कोई खिताब

टाटा ओपन महाराष्ट्र में भारत को नहीं मिला कोई खिताब

पुणे। दक्षिण एशिया के एकमात्र एटीपी टूर टूर्नामेंट टाटा ओपन महाराष्ट्र के मेजबान भारत को इस बार कोई खिताब नहीं मिला। 546,355 डॉलर इनामी इस टूर्नामेंट के तीसरे संस्करण का रविवार को यहां महालुंगे बालेवाड़ी स्टेडियम में समापन हुआ।
भारत ने पिछले वर्ष इस टूर्नामेंट में युगल खिताब जीता था लेकिन इस बार उसकी युगल में चुनौती सेमीफाइनल में ही समाप्त हो गयी। रामकुमार रामनाथन और पूरब राजा की भारतीय जोड़ी को सेमीफाइनल में इजरायल के जोनाथन इर्लिच और बेलारूस के आंद्रेई वेसीलेवस्की ने लगातार सेटों में 7-6, 6-4 से हराया।
पिछले साल विजेता रहे रोहन बोपन्ना और दिविज शरण इस बार अलग-अलग जोड़ीदारों के साथ खेले और दोनों को ही निराशा का सामना करना पड़ा। भारत के लीजेंड खिलाड़ी लिएंडर पेस का भारत में यह आखिरी टूर्नामेंट था लेकिन वह क्वार्टरफाइनल में हार गए। रामनाथन और राजा ने पेस और ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू एब्डेन की जोड़ी को 6-2, 6-1 से हराया।
भारत के नंबर एक खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्वरन दूसरे दौर में बाहर हो गए। प्रजनेश को चौथी सीड क्वान वून सू ने 6-3, 7-6 (7-5) से पराजित किया। प्रजनेश से पहले सुमित नागल, रामकुमार रामनाथन, शशीकुमार मुकुंद और अर्जुन खाड़े पहले दौर में ही हार कर बाहर हो गए।
चेक गणराज्य के जीरी वेस्ली ने रविवार को बेलारूस के इगोर गेरासिमोव को 7-6 (7-2), 5-7, 6-3 से हराकर एकल खिताब जीता। इंडोनेशिया के क्रिस्टोफर रुंगकाट और स्वीडन के आंद्रे गोरांसन ने टूर्नामेंट का युगल खिताब जीता। रुंगकाट और गोरांसन ने इजरायल के जोनाथन इर्लिच और बेलारूस के आंद्रेई वेसीलेवस्की को 6-2, 6-3, 10-8 से हराया।

About admin